Aatmchintan

इस मार्च एन्डिंग में, जीवन की बैलेंस शीट जांचने की इच्छा हुई
तो पाया कि प्रेम ,स्नेह, आत्मीयता , भाईचारा,कर्तव्यनिष्ठा के खाते ही गायब हैं। |

मन के ‘मुनीम ‘से पूछा तो वो बोला – सर जी , वर्षो से इनके साथ कोई लेनदेन हुआ ही नहीं।।।

ना जाने कितने रिश्ते ,ख़त्म कर दिये इस भ्रम ने कि मैं ही सही हूँ, और सिर्फ़ मैं ही सही हूँ….!!

 

#saurabhyadavbjp

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s